जीत का रिकॉर्ड बरकरार.

 

एडिलेड। आइसीसी क्रिकेट विश्व कप 2015 के सबसे बड़े मुकाबले में आज भारत और पाकिस्तान की टीमें आमने-सामने थीं। इस महामुकाबले में भारतीय टीम ने पाकिस्तान पर 76 रनों से जीत दर्ज करके विजयी छक्का लगाया है। यानी विश्व कप इतिहास में पाकिस्तान के खिलाफ ये भारत की छह मैचों में छठी जीत रही और पाकिस्तान एक बार फिर इस हार के सिलसिले को तोड़ने में असफल रहा। ये रनों के मामले में विश्व कप इतिहास में पाकिस्तान के खिलाफ भारत की सबसे बड़ी जीत भी साबित हुई।

इससे पहले सबसे बड़ी जीत भारत ने 1999 विश्व कप में हासिल की थी जब भारत ने 47 रनों से मैच जीता था। भारत ने इस मैच में 301 रनों का लक्ष्य दिया जिसके जवाब में पाकिस्तान 47 ओवर में 224 के स्कोर पर ही सिमट गई। शतक जड़ने वाले भारतीय बल्लेबाज विराट कोहली (107) को मैन ऑफ द मैच के खिताब से नवाजा गया।

दिल्ली में राज्यपाल केसरीनाथ त्रिपाठी से मिले मांझी,

 

बिहार की राजनीति में नित नए समीकरण बन और बिगड़ रहे हैं. आरोप-प्रत्यारोप और बयानबाजी का दौर भी जारी है. रविवार को अमित शाह के बेटे के रिसेप्शन में शरीक होने के लिए मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी दिल्ली पहुंच चुके हैं. दिलचस्प यह है कि राष्ट्रीय राजधानी के पश्चिम बंगाल हाउस में उन्होंने राज्यपाल केसरीनाथ त्रिपाठी से भी मुलाकात की है. जबकि लालू प्रसाद के साले साधु यादव ने मांझी का समर्थन किया है. साधु ने कहा कि लालू आज सामंती ताकतों से साथ खड़े हो गए हैं. लेकिन 20 फरवरी को मांझी अपना बहुमत जरूर सिद्ध करेंगे.
पार्टी विरोधी गतिविधि‍यों के कारण बहुत पहले ही आरजेडी से निकाले जा चुके साधु यादव ने कहा, ‘अगर मांझी बहुमत सिद्ध नहीं कर सके तो जनता के बीच जाएंगे.’ दूसरी ओर जेडीयू, आरजेडी, कांग्रेस और वाम दलों के संयुक्त संवाददाता सम्मलेन में राज्यपाल केसरीनाथ त्रिपाठी पर हमला किया गया. जेडीयू के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह ने कहा कि राज्यपाल सुशील मोदी की भाषा बोल रहे हैं. सिंह ने कहा, ‘गर्वनर नीतीश के खिलाफ आपत्ति‍जनक बयान और भाषा का इस्तेमाल कर रहे हैं. राज्यपाल बताएं की मांझी के पास किसका समर्थन है.’जेडीयू प्रदेश अध्यक्ष ने मांझी पर निशाना साधते हुए कहा कि वह बेलगाम घोषणाओं के जरिए राज्य को कंगाल बनाने की कोशिश कर रहे हैं. अगर ऐसे ही घोषणाएं होती रहीं तो राज्य में कर्मचारियों को सैलरी देने लायक भी पैसा नहीं बचेगा.

कोहली ने तोड़ा सचिन का रिकॉर्ड.

पाकिस्तान के खिलाफ वर्ल्ड कप में पहली सेंचुरी,

क्रिकेट वर्ल्ड कप के पहले ही मैच में अपने चिरप्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान के खिलाफ विराट कोहली ने शतक लगाकर एक वर्ल्ड रिकॉर्ड बना दिया है. उन्होंने लगातार दूसरे वर्ल्ड कप के पहले मैच में ही शतक लगाने का रिकॉर्ड बनाया है. इसके साथ ही विराट वर्ल्ड कप के एक और रिकॉर्ड बुक में शामिल हो गए क्योंकि वर्ल्ड कप मुकाबलों में यह पाकिस्तान के खिलाफ किसी भी भारतीय बल्लेबाज का पहला शतक है. इस शतक के साथ ही उन्होंने मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर का पाकिस्तान के खिलाफ 12 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ दिया है. सचिन तेंदुलकर ने 2003 वर्ल्ड कप में पाकिस्तान के खिलाफ 98 रन बनाए थे.
विराट कोहली अपना दूसरा वर्ल्ड कप खेल रहे हैं और पहले ही मैच में शतक लगा कर उन्होंने एक और रिकॉर्ड बना दिया. कोहली लगातार दूसरे वर्ल्ड कप में टीम इंडिया के पहले मैच में ही शतक लगाने वाले पहले क्रिकेटर भी हो गए हैं. इतना ही नहीं, कोहली के नाम अपने डेब्यू वर्ल्ड कप मैच में भी शतक लगाने का रिकॉर्ड है. 2011 में उन्होंने अपने पहले वर्ल्ड कप मैच में नाबाद 100 रन बनाए थे. वर्ल्ड कप में अपना 10वां मैच खेल रहे विराट कोहली का यह दूसरा शतक है.

बात अगर पाकिस्तान के खिलाफ वर्ल्ड कप में लगे शतकों की करें तो इनकी संख्या केवल चार है. यानी विराट पाकिस्तान के खिलाफ वर्ल्ड कप में शतक लगाने वाले चौथे बल्लेबाज हैं. उनसे पहले ऑस्ट्रेलिया के एंड्रूयू साइमंड्स (नाबाद 143, 2003 वर्ल्ड कप), न्यूजीलैंड के रॉस टेलर (नाबाद 131, 2011 वर्ल्ड कप) और वेस्टइंडीज के रिची रिचर्डसन (110, 1987 वर्ल्ड कप) पाकिस्तान के खिलाफ शतक लगा चुके हैं.

भारत-पाक मैच के बाद ट्रॉल हुए अनुष्का-विराट..

नई दिल्ली: ट्वीटर जिन चीज़ों के लिए जाना जाता है उनमें ट्रेड्स के बाद ट्रॉल्स बड़े मशहूर हैं और ऐसा कैसे हो सकता है कि भारत-पाक मैच के दौरान कोहली ने शतक लगया हो और ट्विटरेट्टीज़ उन्हें ट्रॉलिंग से बक्श दें! जब-जब कोहली ट्रॉल कर रहे होते हैं तो अनुष्का इसके अधूरेपन को पूरा करती हैं. तो पेश हैं आज के मैच से जुड़े ट्रॉल्स.

भीड़ अनुष्का को ढूंढ़ रही होती है

अपने ट्वीट से अनुष्का की प्रशंसक लगने वाली निशा ने लिखा है, “जैसे ही विराट शतक लगाते हैं भीड़ अनुष्का को ढूंढ़ रही होती है.”

विराट पूनम पांडे को तलाशने लगे

 वहीं चुटकी लेते हुए सोनल कालरा ने लिखा है, “विराट की नज़रे लगतार अनुष्का को ढूंढती रहीं, जब वे नहीं मिलीं तो विराट पूनम पांडे को तलाशने लगे.”

अनुष्का ने एक पाकिस्तानी लड़के को किस किया था

किसी ने फिल्म पीके में सुशांत सिंह राजपूत (जिन्होंने एक मुस्लिम लड़के का किरदार निभाया था) और अनुष्का की लव स्टोरी की कहानी याद दिलाते हुए लिखा है, “विराट को आज भी याद है कि पीके में अनुष्का ने एक पाकिस्तानी लड़के को किस किया था.”

अनुष्का होती तो विराट खुद को आऊट करवा लेते

अगर कोहली को प्यार और साथी खिलाड़ी के बीच चुनना होता तो वे किसे चुनते? एक ट्विटरेट्टी का मानना है कि अगर धवन की जगह अनुष्का होती तो विराट खुद को आऊट करवा लेते.

अनुष्का को निकालो, देश के लिए खेलो विराट

क्रिकेट प्रेमियों के जहन में आज भी पिछले मैचों में विराट द्वारा किया गया परफॉर्मेंस घर किए हुए है और शायद इसी वजह से एक यूजर ने ट्वीट किया है, “अनुष्का को दिमाग से निकाल कर देश के लिए खेलो विराट!”

खुशी है, अनुष्का ऑस्ट्रेलिया में नहीं हैं

अनुष्का की लिप सर्जरी के बाद से उनका खासा मज़ाक उड़ा है और ये मज़ाक कैसे होता हैं ये ट्वीट उसका नमूना है, “खुशी है कि अनुष्का ऑस्ट्रेलिया में विराट का ध्यान भटकाने के लिए नहीं हैं पर सुना है कि उनको भंयकर होटों को स्टेडियम में देखा गया है.”

अनुष्का वैलेंटाइन डे के दिन कैसे परफॉर्म करती हैं!

क्रिकेट का वैलेंटाइन कनेक्शन बनाते हुए एक ट्वीट में लिखा गया है, “विराट का परफार्मेंस इस बात पर निर्भर करता है कि अनुष्का वैलेंटाइन डे के दिन कैसे परफॉर्म करती हैं.”

विराट, अनुष्का के लिए लिप गार्ड

सबसे ज्यादा ट्रॉल्स जिन बातों से जुड़े हैं उनमें पीके, वैलेंटाइन डे और अनुष्का की लिप सर्जरी शामिल है, तो उनकी सर्जरी पर एक और ट्वीट में लिखा गया है, “अनुष्का विराट अपने लिए क्रिकेट से जुड़े सारे गार्डस खरीदते हैं और अनुष्का के लिए लिप गार्ड.”

…तो इसलिए पाकिस्तानी खिलाड़ियों ने विराट के दो कैच छोड़ दिए

जैसा की बताया गया कि फिल्म पीके से जुड़े ट्रॉल्स सबसे ज्यादा हुए ट्रॉल्स में शामिल हैं तो इसमें विराट को मिले जीवनदान से जोड़ कर किया गया एक शामिल है जिसमें लिखा गया है, “लगता है पाकिस्तानी खिलाड़ी फिल्म पीके को कुछ ज्यादा ही सीरियसली ले रहे हैं, इसलिए उन्होंने विराट के दो कैच छोड़ दिए.”

अनुष्का और धवन ने एक-दूसरे को बताया कि…

वहीं जिस तरीके से भारत का दूसरा विकेट रन आउट की वजह से गिरा उसके बाद लगता है कि लोग इसका ठीकरा विराट पर ही फोड़ने वाले हैं. कम से कम इस ट्वीट से तो एसा ही लगता है जिसमें लिखा है, “अनुष्का और धवन ने एक-दूसरे को बताया कि विराट वुलाता है और खुद नहीं आता.”

किंग खान ने दी टीम इंडिया को शुभकामनाएं.

 

नई दिल्ली: टीम इंडिया पाकिस्तान मुकाबले से पहले देश के बड़ी बड़ी हस्तियां भी भारतीय टीम को पाकिस्तान के खिलाफ हाईवोल्टेज मैच से पहले शुभकामनाए दे रही हैं. इसी कड़ी में बॉलीवुड के किंग खान भी जुड़ गए हैं.

शाहरूख खान ने अपनी ट्वीटर के जरिये टीम इंडिया को वर्ल्ड कप में शुभकामनाएं दी हैं. शाहरूख ने लिखा ‘हेव अ ग्रेट गेम टीम इंडिया, ऑल द बेस्ट फॉर द वर्ल्ड कप’.

Shah Rukh Khan (@iamsrk) – Twitter Video click here

अमिताभ बच्चन ने किया पहली बार वर्ल्ड कप मे कुछ खास…

नई दिल्ली/एडिलेड: भारत-पाकिस्तान के मैच में भारत की सबसे बड़ी आवाज़ अमिताभ बच्चन स्टार स्पोर्ट्स पर लाइव कॉमेंट्री कर रहे थे हाला की वो ज्यादा देर तक रुके नहीं पर जितनी देर तक थे एडिलेड मे उनकी आवाज़ गूज़ उठी …

अमिताभ कॉमेंट्री…..

पहली बार अमिताभ की कॉमेंट्री से खुला भारत का खाता, अमिताभ ने किया अनाउंस टीम इंडिया का पहला रन.

अमिताभ की हाइट पर भी हो रही है चर्चा, साथी कॉमेंटेटर्स ने कहा अमित जी की हाइट के हिसाब से वो भारत की तरफ से तेज़ गेंदबाज़ हो सकते थे.

एक शॉट की टेक्निकल जानकारी देने पर संजय मांजरेकर ने अमिताभ से कहा कि आप इतना टेक्निकल ना समझाएं वर्ना हमारी छुट्टी हो जाएगी. तब अमिताभ ने कहा नहीं हो सकता है के मैं आपकी छुट्टी ना करूं लेकिन आप लोगों सिनेमा में आ सकते हैं.

मंगलयान के कुल बजट से छह गुना महंगी एक मूर्ति!

नई दिल्ली: मार्स ऑर्बिटर मिशन या मंगलयान अभियान की सबसे ज्यादा तारीफ इसके कम बजट के लिए हुई है. पूरे अभियान का बजट महज 450 करोड़ था जो कि इस तरह के किसी भी अभियान से काफी कम है. लेकिन चौंकाने वाली बात यह है कि गुजरात में लगने वाली सरदार पटेल की मूर्ति ‘स्टैचू ऑफ यूनिटी’ का खर्च मंगल अभियान से चार गुना अधिक है.

सोशल मीडिया पर कुछ कमेंटेटर्स ने लिखा है कि प्रधानमंत्री की धरती की योजना मंगल से ज्यादा महंगी है. मंहगी भी थोड़ी बहुत नहीं बल्कि चार गुना अधिक! गुजरात में साबरमती नदी के किनारे ‘स्टैचू ऑफ लिबर्टी’ के नाम से लगने वाली सरदार पटेल की मूर्ती पर मंगलयान अभियान से कम से कम चार गुना अधिक खर्च आएगा. स्टैचू ऑफ यूनिटी के लिए मोदी सरकार के पहले बजट में 200 करोड़ रुपए का आवंटन किया गया है जो मंगलयान अभियान का आधा है.

वहीं इस योजना के लिए गुजरात सरकार 500 करोड़ देने वाली है. दोनों राशियों को जोड़ने के बाद भी कुल राशी पूरे बजट की एक तिहाई तक ही पहुंच पा रही है. एक रिपोर्ट के मुताबिक स्टैचू ऑफ यूनिटी बनाने के लिए जो सबसे कम बोली लगी है वो 2,980 करोड़ रुपए की है. जो वर्तमान संभावित बजट 903 करोड़ रुपए से 917 करोड़ रुपए ज़्यादा है.

मंगल की कक्षा में मंगलयान के सफलता से स्थापित हो जाने के बाद पीएम मोदी ने खुले दिल से इसरो के वैज्ञानिकों की तारीफ की. पीएम का कहना था कि जो काम वैज्ञानिक करते हैं अगर उसे आम जीवन में लागू किया जाए तो लोगों की ज़िदगी बदल जाएंगी, सरकार चलाने का तरीका भी बदल जाएगा. पीएम ने कहा कि इससे पूरे सिस्टम में बदलाव आ जाएगा. उनका मानना है कि हमारे जीवन में स्पेस टेक्नॉलजी से बहुत बड़ा बदलाव आ रहा है.

मंगलयान की सफलता के मौके पर पीएम ने कहा, “मुझे विश्वास है कि हमारा काम, देश में सरकार चलाने का तरीका, जीवन स्तर और चीज़ों को हासिल करने का तरीका आपके इस प्रयास से बदल सकता है.” पीएम ने जिस बात की सबसे ज़्यादा तारीफ की वो यह थी कि पूरी योजना का बजट हॉलीबुड की एक फिल्म ‘ग्रैविटी’ से भी कम है. लेकिन क्या अपनी इस सराहना से वो खुद असल ज़िदगी में भी सीख लेंगे?

ऐसा सोचने में कोई बुराई नहीं है कि 2,000 करोड़ में मंगलयान जैसे और कितने अभियान आगे बढ़ाए जा सकते हैं.

फ्री हुआ फेसबुक और गूगल

नई दिल्ली: आज की तारीख में इंटरनेट की पहुंच दुनिया की 85% आबादी तक है फिर भी महज 30% आबादी ही नेट का इस्तेमाल कर पाती है. पैसे और जानकारी दो ऐसे कारण है जिसकी वजह से लोग इंटरनेट का इस्तेमाल नहीं कर पाते हैं.

इन दिक्कतों को दूर करने के लिए एक नया एप्लिकेशन लांच किया गया है. एप का नाम Internet.org है. इस एप के सहारे इंटरनेट नेट से जुड़ी बेसिक सुविधाओं का फ्री में इस्तेमाल किया जा सकेगा.

इस एप के सहारे लोग हेल्थ, जॉब और लोकल इन्फार्मेशन की जानकारी फ्री में ब्रॉउज कर पाएंगे. इस एप का मकसद लोगों को उन जानकारियों से जोड़ना है जिससे वो इंटरनेट के बगैर नहीं जुड़ पाएंगे और उन जानकारिओं का लाभ नहीं उठा पाएंगे.

इंटरनेट.ओआरजी एप सबसे पहले जांबिया (अफ्रिका का एक देश) में एयरटेल का कनेक्शन यूज कर रहे लोगों के लिए उपलब्ध होगा. वहां से शुरू होने के बाद ये अपनी सविधाएं पूरी दुनिया में फैला देगा.

इस एप के सहारे जिन चीजों को फ्री में ब्रॉउज किया जा सकेगा उनमें ये नाम शामिल हैं-

फेसबुक
गूगल सर्च
एक्यू वेदर
एयरटेल
इजीलाइब्रेरी
फैक्टस ऑफ लाइफ
गो जांबिया जॉब्स
कोकोलिको
मामा (मोबाइल अलायंस फॉर मैटरनल एक्शन)
मैसेंजर
विकिपिडिया
डब्ल्यूआरएप (वुमेन्स राइट्स एप)
जांबिया यूरिपोर्ट

AIB: सोनाक्षी ने महेश भट्ट के समर्थन में कहा कि हंसने के लिए कोई जेल नहीं गया

SONA

नई दिल्ली: कुछ दिनों पहले एक यूट्यूब चैनल ‘एआईबी’ द्वारा कराए गए एक प्रोग्राम ‘रोस्ट’ ने अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता (freedom of speech) से जुड़ीं लंबी बहस छेड़ दी है. इसमें बॉलीवुड अदाकार आमिर खान से लेकर फिल्म ‘गैंग्स ऑफ वासेपुर’ के निर्देशक अनुराग कश्यप और महाराष्ट्र के कल्चरल मिनिस्ट्री से लेकर मुंबई हाई कोर्ट तक कूद पड़ा है.

बीते बुधवार को मुंबई हाई कोर्ट ने मामले से जुड़े प्रमुख लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने का निर्देश दिया था जिसमें महेश भट्ट की बेटी आलिया भट्ट का नाम भी शामिल है. इसे लेकर महेश भट्ट ने अपनी नाराजगी ट्विटर पर जताई है.

क्या कहते हैं महेश भट्ट
MAHESH

भट्ट लिखते हैं, “दो तरह की पीआईएल (जनहित याचिका) होती हैं, पहला जिसमें समाज हिता शामिल होता है और दूसरा जिसमें सिर्फ बवाल खड़ा करने का उद्देश्य होता है. अदलतों को बेमतलब के मामलों में उलझाया जा रहा है जिससे असली मुद्दे पीछे छूट जाते हैं.”

 

 

 

ये हैं भट्ट के ट्वीट्स

उन्होंने आगे लिखा है, “मुंबई हाई कोर्ट में दायर उस याचिक के बारे में कोई बात नहीं करता जिसमें फिल्म जगत में काम कर रहे लोगों की सुरक्षा से संबंधित बात की गई है. कुछ चीजें है जो देशहित में होती हैं और कुछ ऐसी जिसमें देश (के लोगों) को मज़ा आता है. एआईबी द्वारा किया गया काम दूसरी कैटगरी में आता है.”

भट्ट को सोनाक्षी का पूरा सपोर्ट
महेश भट्ट के ट्विट्स पर प्रतिक्रिया देते हुए बॉलीवुड दीवा सोनाक्षी सिन्ह (जो एआईबी के शो में मौजूद थीं) ने लिखा है, “मेरे नाम पर भी कुछ बेमतलब के एफआईआर दर्ज किए गए थे (अगर मैं गलत नहीं हूं तो ऐसा दिल्ली और कोलकाता में हुआ था जिनमें मेरा नाम शामिल था और आलिया का नहीं).”

 

 

unnamed (2)K

ये हैं सोनाक्षी के ट्वीट्स

 

सोनाक्षी आगे लिखती हैं, “उस समय मेरे पिता ने इन पर सवाल नहीं उठाए थे पर मैं आपकी बात का समर्थन करती हूं.” सोनाक्षी ने मुंबई हाई कोर्ट और प्रशासन पर सवालिया निशान लगाते हुए लिखा है, “अगर एफआईआर आडियंस में मौजूद दो से तीन लोगों पर दर्ज की गई है तो बाकी के 3,998 लोगों को क्यूं छोड़ दिया गया.”

सोनाक्षी आगे लिखती हैं, “हमें ऐसी बातों पर ज्यादा ध्यान नहीं देना चाहिए क्योंकि इससे उन्हें फायदा पहुंचेगा.” दबंग गर्ल आगे लिखती हैं कि जहां तक उन्हें याद है, हंसने के लिए आज तक किसी को जेल की सज़ा नहीं हुई है. जिसपर महेश भट्ट का जवाबा है, “सच में! मैं तुम्हारी हर बात से पूरी तरह सहमत हूं. इतनी अच्छी बतों के लिए शुक्रिया. तुम्हारी इतनी कम उम्र में इतनी समझदारी से मैं प्रभावित हूं.”

BLUE 15: फिल्मी स्क्रिप्ट जैसी है मोहित की वर्ल्ड कप टीम में एंट्री

unnamed (3)

नई दिल्ली: वर्ल्ड कप शुरू होने से महज़ 7 दिन पहले टीम इंडिया के सबसे अनुभवी तेज़ गेंदबाज़ी को चोट के कारण घर आना और एक युवा जोशीले गेंदबाज़ को टीम इंडिया के लिए वर्ल्ड कप का टिकट मिल जाना. ऐसा किसी क्रिकेट फैन ने शायद ही सोचा था. घुटने में चोट की वजह से ईशांत को वर्ल्ड कप बीच में ही छोड़कर वापस देश लौटना पड़ा.

ईशांत की जगह तेज़ गेंदबाज़ मोहित शर्मा को वर्ल्ड कप की टीम इंडिया में चुना गया है. मोहित की वर्ल्ड कप टीम में एंट्री किसी भी बॉलीवुड फिल्म की स्क्रिप्ट से कम नहीं लगती. वर्ल्ड क्रिकेट के सबसे बड़े टूर्नामेंट में इस तरह से जगह बनाना. ऐसी उम्मीद खुद मोहित को भी नहीं होगी. इसीलिए आज BLUE 15 की कड़ी में हमारा अगला BLUE प्लेयर है मोहित शर्मा.

ईशांत का विकल्प मोहित शर्मा: साल 2013 में टीम इंडिया के लिए डेब्यू करने वाले मोहित शर्मा अकसर टीम में अंदर बाहर होते रहे हैं. मोहित ने अगस्त में अपना पहला वनडे जिम्बाबवे के खिलाफ खेल थे. जिसमें उन्होनें बेहतरीन गेंदबाज़ी करते हुए 10 ओवर में महज़ 26 रन देकर 2 विकेट भी झटके थे. अपने पहले वनडे मैच में ही मोहित को मैन ऑफ द मैच से नवाज़ा गया था.

पिछले 2 मैचों में ऑस्ट्रेलिया में मोहित ने इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलियाई टीम के खिलाफ 4 विकेट झटके हैं.

मोहित शर्मा ने 12 वनडे मैचों में 40 के औसत से 10 विकेट झटके हैं. मोहित का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन पिछले साल बांग्लादेश के खिलाफ आया जब उन्होनें 8 ओवर में 22 रन देकर 4 विकेट झटके थे. इस 26 वर्षीय दाएं हाथ के तेज़ गेंदबाज़ ने समय समय पर टीम के लिए किफायती गेंदबाज़ी की है.

इतने कम मैच के अनुभव और इन आंकड़ों के आधार पर मोहित की प्रतिभा को जांचना गलत होगा. इस खिलाड़ी ने वनडे क्रिकेट में आने से पहले कई मोर्चो पर खुद को साबित किया है.

मोहित ने महज़ 24 फर्स्ट-क्लास मैच खेलकर ही टीम इंडिया में अपना स्थान बना लिया. उन्होनें 24 मैचों में 22 के बेहद शानदार औसत से 85 विकेट झटके हैं. जिसमें 45 रन देकर 5 विकेट उनका बेस्ट है. मोहित ने लिस्टए क्रिकेट के 31 मैचों में भी 30 विकेट झटके हैं.

लेकिन टीम इंडिया में जगह बनाने से पहले मोहित को असली पहचान मिली आईपीएल से. आईपीएल में मोहित शर्मा चेन्नई सुपर किंग्स टीम का हिस्सा है. कप्तान धोनी की कप्तानी में आईपएल मे मोहित ने कई मैच खेले हैं. आईपीएल में मोहित ने 31 मैच खेले हैं जिसमें मोहित ने 18 के बेहद बढ़िया औसत से 43 विकेट झटके हैं. कप्तान को रविंद्र जडेजा की तरह ही मोहित शर्मा पर भी बहुत अधिक भरोसा है. हालांकि मोहित ने टीम इंडिया में मिले मौके को बखूबी भुनाया भी है.

हरियाणा के बल्लभगढ़ के इस युवा तेज़ गेंदबाज़ के कंधों पर ऑस्ट्रेलिया में बड़ा दारोमदार है. ईशांत की गैरहाज़िरी में मोहित शर्मा के पास वर्ल्ड कप में कुछ बड़ा करके देश को उसका वर्ल्ड कप खिताब दिलाना होगा साथ ही अपना नाम क्रिकेट जगत में उजागर करना होगा.

काबिलियत: दाएं हाथ के तेज़ गेंदबाज़ मोहित शर्मा स्टीक लाईन और लेंग्थ से दुनियाभर के बल्लेबाज़ों को परेशान कर सकते हैं. मोहित बेहद कंसिस्टेंट गेंदबाज़ हैं. अगर वो लय में हो तो पूरे टूर्नामेंट में वो अच्छी गेंदबाज़ी कर सकते है. ऑस्ट्रेलियाई सरज़मी पर मोहित की तेज़ गेंदें भारत को विश्व कप खिताब फिर से दिला सकती हैं.